Subject is part of the sentence in which the person or object that we are talking about is identified. The subject of the sentence usually comes first. Only on rare occasions it is put after the predicate.
कर्ता (subject) वाक्य का वह भाग है जिस में हम उस व्यक्ति या वस्तु को चिन्हित करते हैं जिसके बारे में वाक्य में चर्चा करना होता है. वैसे तो कर्ता वाक्य में कारक के पहले आता है लेकिन कुछही मौकों में कर्ता को कारक के बाद लिखा जाता है.
The subject can consist of one or more words. Out the collection of words that forms the subject, there is always one word which is more important than the others. This most important word is called the Subject-Word.
कर्ता एक या अधीक शब्दों के समूह से बनता है. कर्ता बनाने वाले शब्दों के समूह में से एक शब्द ऐसा होता है जो बाकी के तुलना में ज्यादा महत्वपूर्ण होता है - उस शब्द को कर्ता-शब्द (Subject-Word) कहते हैं.

The Subject-Word is always a noun or a group of words that function as a noun, or a pronoun.
कर्ता शब्द हमेशा एक संज्ञा होता है या कभी-कभी शब्दों का ऐसा समूह होता है इक्ठा एक संज्ञा का कार्य करते हैं या एक सर्वनाम.

For Eg.
1. Ramesh is a student.
Ramesh is the subject for this sentence.
2. Jack and Jill went up the hill.
The subject is that group of words Jack and Jill.
3. She is a good swimmer.
The subject is a pronoun (She).

In most cases, the sentence begins with the subject. But then there are occasions when subjects are used later on in the sentence.
अधिकांश मामलों में देखा जाता है की वाक्य की शुरुआत कर्ता (subject) से होती है. लेकिन फिर ऐसा भी होता है कि ऐसे भी मौके होते हैं जब कर्ता को बाद में प्रयुक्त किया जाता है.

For Eg.
1. Fortunately for the country the army was well prepared.
Here the subject, the army, is used much later in the sentence.
The complete subject is formed by the Suject-Word and the other words that support or enlarge the Subject-Word. These additional words are called as the Attribute or Enlargement.
पूर्ण कर्ता में कर्ता शब्द के साथ कुछ और ऐसे शब्दों को जोड़ा जाता है जिनसे उप्युक्त कर्ता-शब्द का विस्तार होता है. इन अतिरिक्त शब्दों को Attribute या Enlargement कहते हैं.